Home हिन्दी फ़ोरम अगर आप पानी की समस्या से जूझ रहे हैं, तो ऐसे पाएं...

अगर आप पानी की समस्या से जूझ रहे हैं, तो ऐसे पाएं घर के भीतर नल से जल

466
0
SHARE
 
जल बिन सब सून, अगर जल है तो हमारा कल भी रहेगा। अगर हम आज पानी की बचत करेंगे, पानी का संरक्षण करेंगे तो भविष्य में हमें पानी की कमी नहीं होगी। भले ही धरती 70 फीसदी पानी से घिरी है लेकिन पीने के पानी की किल्लत आज भी हम झेलते हैं। यही कारण है कि हमारी पानी बचत करना प्राथमिक जिम्मेदारी है और सरकार की जिम्मेदारी है कि पानी की पहुंच हमारे घर तक हो। आज विश्व जल दिवस है। यूनाइटेड नेशन ने जल दिवस 1993 में शुरू किया गया था। इसके अंतर्गत जल के महत्व को उजागर किया जाता है और सुरक्षित जल की पहुंच के बिना वर्तमान में रह रहे दो अरब लोगों के लिए जागरूकता विकसित की जाती है।

हर घर नल योजना से आपके घर तक पहुंच रहा है पानी

विश्व जल दिवस (World Water Day) का फोकस सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स सबके लिए 2030 तक स्वच्छता की दिशा में कार्रवाई को प्रेरित किया जाता है। आज का दिन पीने योग्य पानी के महत्व पर फोकस करता है। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व के अंतर्गत जल जीवन मिशन, अटल भू-जल योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, नमामि गंगे, नेशनल अक्विफायर मैपिंग और प्रबंधन कार्यक्रम जैसी तमाम जल से संबंधित योजनाओं और कार्यक्रमों को लागू किया जा रहा है। इसका उद्देश्य जल संरक्षण और भू-जल स्तर को बढ़ाना है। 21 मार्च, 2023 को 11 करोड़ 49 लाख घरों में नल से जल के कनेक्शन प्रदान किए गए हैं और एक लाख 53 हजार से अधिक गांवों में हर घर जल है।

पानी की मौजूदगी के ये आकड़े चौकाने वाले है

पूरे विश्व में महज 3% जल फ्रेश वाटर है यानी कि ये पानी पीने योग्य है। उसमे से भी पृथ्वी के ताजे पानी का 2.5% ग्लेशियरों, मटमैला अत्यधिक प्रदूषित, या वहनीय लागत पर निकालने के लिए पृथ्वी की सतह के नीचे बहुत दूर स्थित है। पृथ्वी के कुल जल का 0.5% ताजा जल जो फिलहाल हमें मिल रहा है।

जल जीवन मिशन के तहत सरकार आपके द्वार पहुंचा रही है पानी

जल जीवन मिशन स्कीम (Jal Jeevan Mission Scheme) के माध्यम ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के घरों में पीने के पानी के लिए जल कनेक्शन लगाए जा रहे हैं। जल जीवन मिशन स्कीम (JJM) की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष में 15 अगस्त 2019 को की गयी थी। देश के लगभग 50% ऐसे ग्रामीण क्षेत्र है जहां अभी भी लोगों को पानी की समस्या होती है उन क्षेत्रों में पीने के पानी को पहुंचाने के लिए पीएम मोदी ने इस स्कीम का शुभारम्भ किया। बढ़ती जनसंख्या के साथ-साथ पानी जैसी समस्या भी बढ़ती जा रही है ऐसे कई ग्रामीण क्षेत्र है जहां पानी की सुविधा उपलब्ध नहीं है और लोगों को कई दूर पैदल चल कर पानी लाना पड़ता है। पानी की कमी से किसानों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इन सभी परेशानियों को देख कर सरकार ने जल जीवन मिशन स्कीम / JJM मिशन की शुरुआत की है। इस मिशन के तहत जिन इलाकों में पानी नहीं है वहां हर घर में पाइप लाइन के माध्यम से पानी पहुंचाया जा रहा है।

कैसे पाएं जल जीवन मिशन के तहत घर के भीतर पानी

जल जीवन मिशन स्कीम का लाभ लेने के लिए उम्मीदवार जिस राज्य में निवास करता है वे वहां के मूल निवासी होने चाहिए। Jal Jeevan Mission का लाभ लेने के लिए उम्मीदवार ग्रामीण इलाके में आना चाहिए। Gramin Jal Jeevan Mission Scheme का लाभ लेने के लिए उम्मीदवारों के पास कुछ दस्तावेज जैसे- आधार कार्ड, मूल निवास प्रमाण पत्र, बैंक अकाउंट आदि होने चाहिए। जल जीवन मिशन स्कीम का लाभ गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगो को प्रदान किया जाएगा। स्कीम का लाभ लेने के लिए उन लाभार्थियों को पात्र माना जाएगा जिनके घर में पानी का कनेक्शन नहीं है। अगर आप भी देश के ग्रामीण छेत्र में निवास करते है और इस योजना का लाभ लेने के लिए फॉर्म भरना चाहते है, तो आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट (jaljeevanmission.gov.in) पर जाकर फॉर्म भर सकते है।