Home हिन्दी फ़ोरम

हिन्दी फ़ोरम

ये हैं देश की टॉप हेल्थ केयर सीएसआर प्रोजेक्ट्स

कहते है कि जान है तो जहान है, अगर हम स्वस्थ है तो जिंदगी बड़ी हसीन होती है और अस्वस्थ तो अपने भी साथ छोड़ देते है। बीमारियां घर कर जाने से सबसे करीबी रिश्ता भी दूर चला जाता है। पिछले दो सालों में कोरोना ने हर एक इंसान को एक सीख जरूर दी...

सीएसआर से बढ़ेगी वैक्सीनेशन की रफ्तार

जहां एक तरफ कोरोना के तीसरे लहर की आशंका जताई जा रही है। वहीं इससे निपटने के लिए बड़े पैमाने पर देश भर में वैक्सीनेशन ड्राइव चलाया जा रहा है। लेकिन अफ़सोस इस बात का है कि देश की जनता टीकाकरण मुहिम में बढ़चढ़ का हिस्सा लेने को तैयार है लेकिन पर्याप्त मात्रा में...

संसद में उठा सीएसआर का मुद्दा, सरकार ने दिया ये जवाब

डेमोक्रेसी के मंदिर में संसद का मॉनसून सत्र चल रहा है। राजनीतिक मुद्दों पर बहस हो रही है। कानून और नियमों में संशोधन हो रहा है। पेगासस जासूसी मामले के बीच राजनीतिक गलियारों में जमकर आरोप प्रत्यारोप लगाए जा रहे है। लेकिन इस बीच सीएसआर यानी कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी पर एक महत्वपूर्ण सवाल पर...

सीएसआर से बनेगा गंगा घाट, गांवों में होगा वेस्ट मैनेजमेंट  

सीएसआर यानी कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी की मदद से देश भर में विकास के कई पहल किये जा रहे है। सीएसआर के इन पहलों से समाज का हर एक तबका लाभांवित हो रहा है। छोटे से छोटे गांवों की जरूरतों को भले सरकारी नज़र नज़रअंदाज़ कर दे, लेकिन Corporate Social Responsibility Fund की हर संभव...

सीएसआर की मदद से दिव्यांगों के लिए वैक्सीन ऑन व्हील्स

इसमें कोई दो राय नहीं है कि अगर आपको कोरोना से बचना है तो वैक्सीन लगवाना पड़ेगा। लेकिन विश्व के सबसे बड़े और मुफ्त वैक्सीनेशन ड्राइव में कई दिक्कतें आ रही है। पहले तो अफवाहों की वजह से लोग वैक्सीन लगवाने से कतरा रहें हैं। तो वही अगर जो लोग वैक्सीन लेना भी चाह...

सीएसआर से बने बारात घर में गरीब बेटियों की होगी शादियां

बड़े बड़े मैरेज हॉल में बड़ी शानो शौकत के साथ तो अमीर बेटियों की शादियां तो हो जाती है लेकिन एक गरीब घर की बेटी के लिए मैरेज हाल में शादी एक सपना होता है। अब गांव की गरीब बेटियों व अन्य की शादी गांव के बारात घर में होगी। गांव व आसपास के...

सीएसआर से मिले मेडिकल उपकरणों का हो सही रखरखाव

आपदा में अवसर तलाशने की बात देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्या कही कोरोना आपदा में हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को और बेहतर बनाने का एक अवसर मिल गया। साल 2020 के पहले हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर पर इतना जोर नहीं दिया जाता है। देश की स्वास्थ्य सेवाएं ठीक नहीं थी लेकिन कोरोना महामारी ने ना सिर्फ...

सीएसआर पर जोर देगा मोदी का नया मंत्रिमंडल

केंद्रीय मंत्रिमंडल में बदलाव के बाद सभी मंत्रियों ने अपने-अपने मंत्रालयों का कार्यभार संभाल लिया और अपने मंत्रालयों का रिव्यु भी करने लगे है। जैसे कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मंत्रियों को पारदर्शी कार्य और हर कार्य जनता के लिए समर्पित हो ऐसे कड़े निर्देश भी दिए है लिहाजा हर मंत्री...

सीएसआर से मिलेगी कोरोना पीड़ित अनाथ बच्चों को सहायता

कोरोना काल में कईयों ने अपने को खोया तो कई मामले ऐसे भी देखने को मिले कि परिवार का परिवार उजड़ गया। घर में रोने के लिए कोई नहीं बचा। कोरोना महामारी में बच्चों का भी हाल बेहाल रहा। अभिभावक कोरोना की चपेट में आ गए तो बच्चे अनाथ हो गए। अब इन्हीं अनाथ...

वैक्सीनेशन फ्रॉड से कैसे बचें, कैसे करें असली-नकली वैक्सीन की पहचान

कोरोना की महामारी में देश ने ऐसी भी परिस्थितियां देखी कि सरकार वैक्सीन लगवाने को लेकर लगातार अपील करती रही लेकिन लोग अफवाहों के समंदर में गोते लगाते रहे। इस बीच कोरोना की दूसरी लहर ने वैक्सीन के सारे भ्र्म तोड़ दिए और लोग कोरोना से जान बचाने के लिए बढ़चढ़ कर वैक्सीनेशन ड्राइव...

कोरोना में कमी, सीएसआर से हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर सुधार में तेजी

कोरोना के मामलों में भले कमी आयी हो लेकिन स्वास्थ्य संसाधनों में सीएसआर के निवेश में कमी बिलकुल नहीं आयी है। कोरोना का प्रकोप कम हुआ है, पॉजिटिव केसेस में कमी देखने को मिल रही है। लॉकडाउन राज्यों से भी अच्छी ख़बरें आ रही है। अनलॉक के प्रोसेस शुरू हो चुके है। पाबंदियां हटाई...

कॉरपोरेट्स की टीकाकरण पहल से लाभान्वित हो रहे है कर्मचारी

कोरोना टीकाकरण के लेकर तमाम अफवाहों और भ्रांतियों के बीच भारत में दो तस्वीरें देखने को मिल रही है, ग्रामीण भारत में वैक्सीन की भ्रांतियों की वजह से लोग वैक्सीन लगवा नहीं रहे है वहीं शहरी भागों में लोगों में वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूकता है और लोग लगवाना भी चाहते है लेकिन उन्हें...

हिंदी मंच

EDITOR'S PICK