Home हिन्दी फ़ोरम

हिन्दी फ़ोरम

अपनों को अपनों से ही नहीं, बल्कि सीएसआर से समाज को भी जोड़ती है कोंकण रेलवे 

भारतीय रेल, अपनों को अपनों से जोड़ने का सबसे बेहतर जरिया, सीएसआर के कामों को लेकर भारतीय रेल भी अग्रणी है, खासकर अगर हम कोंकण रेलवे की बात करें तो इन दिनों कोंकण रेलवे सीएसआर कामों को लेकर बड़ी तत्परता दिखा रहा है। सीएसआर की जहां बात आती है वहां बड़े बड़े कॉर्पोरेट कंपनियों...

आर्मी डे – हिंद की सेना

भारतीय सेना, वीरों की सेना। हम हैं, हर चुनौती के लिए हमेशा तैयार। हम रहेंगे, हमेशा विजयी। विजय ही हमारा ध्येय, विजय ही हमारी परंपरा। ‘अमर्त्य वीर पुत्र हो, दृढ़- प्रतिज्ञ सोच लो, प्रशस्त पुण्य पंथ है, बढ़े चलो, बढ़े चलो। असंख्य कीर्ति-रश्मियाँ विकीर्ण दिव्यदाह-सी, सपूत मातृभूमि के– रुको न शूर साहसी।।' ये कुछ...

CSR पर महाराष्ट्र सरकार का ताला, ‘सहभाग” बंद होने से सीएसआर भी बंद ?

महाराष्ट्र में जब से नई सरकार का गठन हुआ है तब से लेकर अभी तक सीएसआर सेल पर ताला लगा हुआ है, सीएसआर सेल यानि सोशल रिस्पांसिबिलिटी सेल, ये सेल पिछले तीन महीनों से बंद पड़ा हुआ है, सहभाग नामक इस सेल में फिलहाल ना कोई कर्मचारी काम कर रहा है और ना ही...

विश्व हिंदी दिवस – हिंदी है हम

महात्मा गांधी कहते थे कि "राष्ट्रभाषा के बिना राष्ट्र गूंगा है" और आज हमारे देश की आवाज अंतरराष्ट्रीय मंच पर सुनी जाती है, वो भी हिंदी में, गर्व है हमें हमारी हिंदी पर, गर्व है हमारे हिंदुस्तान पर, हिंदी हैं हम वतन है हिंदोस्‍ता हमारा, जी हां हमारी राज भाषा हिंदी अब ग्लोबल हो...
video

कॉर्पोरेट्स घरानों के दिग्गजों से मिले महाराष्ट्र के सीएस उद्धव ठाकरे, निवेश और CSR को लेकर की चर्चा

महाराष्ट्र की सत्ता संभालते ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे एक्शन में दिख रहे है, मंगलवार को ठाकरे सरकार ने महाराष्ट्र की अर्थव्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कॉर्पोरेट्स घरानों के दिग्गजों के साथ मैराथन बैठक की, महाराष्ट्र के बड़े उद्योग घरानों में ऐसा कोई नहीं था जो ठाकरे सरकार की इस बैठक में शामिल नहीं...

छत्तीसगढ़ में अब सीएसआर से सुधरेगी खेल की दिशा और खिलाड़ियों की दशा

छत्तीसगढ़ में राज्य सरकार खेलों को बढ़ावा देने के लिए एक अनूठे पहल की शुरवात कर रही है, इस पहल में सीएसआर एक बड़ी जिम्मेदारी निभाने जा रहा है, छत्तीसगढ़ सरकार राज्य में खेलों को बढ़ाने के लिए खेल प्राधिकरण बनाने का ऐलान किया है, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माने तो खेल...

CSR – नए साल पर नयी पहल, संकल्प से बदल रहा है समाज, सीएसआर दे रहा है साथ  

नए साल पर नए उमंग के साथ देश के युवा संकल्प से समाज में बदलाव लाने की कोशिश में जुट गए है, नए साल पर समाज, पर्यावरण और सस्टेनेबल डेवलपमेंट के लिए कई अनूठे पहल की शुरवात हुई है, बात करें दिल्ली की तो यहां प्लास्टिक लाओ खाना खाओ की तर्ज पर गारबेज कैफे...

CSR फंड से बन रहा है रैन बसेरा, गरीबों को कपकपाती ठंड से मिलेगी राहत

उत्तर भारत ठंड की चपेट में है, उत्तर प्रदेश, कश्मीर, बिहार, दिल्ली ये तमाम राज्य है जहां कड़ाके की ठंड है, उत्तर भारत में रविवार को अत्यधित ठंड के चलते काफी ठिठुरन रही, लगातार तापमान लुढ़कने के कारण न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। सिर्फ ठंड ही नहीं घने कोहरे के...

अब सीएसआर फंड से यूपी सरकार कराएगी गरीब बेटियों की शादी

हर एक दुल्हन का ख़्वाब होता है कि उसका होने वाला पति किसी राजकुमार की तरह आए और ब्याह रचाए, लेकिन ये सपना तब चकनाचूर हो जाता है जब मां बाप की इतनी हैसियत नहीं होती, अब इसी सपने को हकीकत में तब्दील करने के लिए सीएसआर मदद करेगा, सीएसआर यानि कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी...
video

CSR – नीता अंबानी बच्चों के साथ इस अंदाज में सेलिब्रेट किया क्रिसमस

रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने 4 हज़ार गरीब बच्चों के साथ खुशियां बांटते हुए क्रिसमस सेलिब्रेट किया, नीता अंबानी से मिलकर बच्चे काफी खुश हुए और नीता अंबानी ने भी उनके साथ जमकर मस्ती की। नीता अंबानी ने बच्चों के क्रिसमस को खास बनाने के लिए स्पेशल आयोजन किया था। बच्चों के...

राष्ट्रीय सीएसआर अवार्ड 2020 के लिए नामांकन शुरू, नेशनल CSR अवार्ड की जानें हर बात

राष्ट्रीय सीएसआर पुरस्कार 2020 के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। राष्ट्रीय सीएसआर अवार्ड भारत सरकार की सीएसआर जगत में बहुत ही प्रतिष्ठित अवार्ड है, जिसके लिए नामांकन आमंत्रित किये जा रहे है, हम आपको बता दें कि कॉर्पोरेट कंपनियों के सीएसआर और सस्टेनेबल डेवलोपमेंट के काम को भारत सरकार हर साल सराहती...

किसान दिवस विशेष –  माटी से महकाई किस्मत, नौकरियां छोड़ किसान बने युवा

किसान अर्थात अन्नदाता, जिनके बगैर अन्न का एक दाना भी मिलना मुश्किल है। किसान दिन रात मेहनत कर अपने पसीने के खेत सींचकर हमारे लिए फसल उगाता है तब जाकर हमारा पेट भर पाता है। अगर फसल की पैदावार बेहतर नहीं हुई तो किसान के साथ साथ, रसोई से लेकर, देश भर में महंगाई...

हिंदी मंच

EDITOR'S PICK