Home हिन्दी फ़ोरम पोंभुर्णा को MIDC की सौगात, चंद्रपुर का होगा औद्योगिक विकास

पोंभुर्णा को MIDC की सौगात, चंद्रपुर का होगा औद्योगिक विकास

357
0
SHARE
पोंभुर्णा में जल्द मिलेगी MIDC की सौगात, चंद्रपुर का होगा औद्योगिक विकास
 
अपने कोयला खदानों के लिए प्रख्यात चंद्रपुर का अब चौतरफा औद्योगिक विकास होने जा रहा है। जल्द ही चंद्रपुर के पोंभुर्णा में MIDC की सौगात मिलने वाली है।वन, सांस्कृतिक कार्य और मत्स्य पालन मंत्री सुधीर मुनगंटीवार की पहल से चंद्रपुर में एमआईडीसी संभव होने जा रहा है। चंद्रपुर मंत्री सुधीर मुनगंटीवार का गृह जिला है ऐसे में कई वर्षों से पोंभुर्णा में MIDC की मांग को मानते हुए महाराष्ट्र सरकार ने चंद्रपुर में औद्योगिक विकास के लिए MIDC का गठन करने का निर्णय लिया है।

आदिवासी और नक्सल प्रभावित जिला है चंद्रपुर, अब होगा औद्योगिक विकास

पोंभुर्णा चंद्रपुर जिले में एक आदिवासी बहुल और नक्सल प्रभावित तहसील है। इस तहसील में नए उद्योग आने और क्षेत्र के बेरोजगारों को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए महाराष्ट्र औद्योगिक विकास निगम (Maharashtra Industrial Development Corporation) की स्थापना करने का निर्णय लिया गया है। The CSR Journal से ख़ास बातचीत करते हुए वन, सांस्कृतिक कार्य और मत्स्य पालन मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने बताया कि MIDC गठन को लेकर विधान भवन में एक बैठक आयोजित की गई, इस दौरान संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। उम्मीद है कि पूरे तहसील के औद्योगिक विकास के लिए एमआईडीसी का काम ढाई महीने में पूरा हो जायेगा।

MIDC से चंद्रपुर का होगा Industrial Development

इस अवसर पर Maharashtra Industrial Development Corporation के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विपिन शर्मा (MIDC CEO Vipin Sharma) उपस्थित थे। हम आपको बता दें कि पोंभुर्णा में एक पोल्ट्री प्रोड्यूसर कंपनी की स्थापना की गई है और यह कंपनी महाराष्ट्र में आदिवासी महिलाओं का पहला पोल्ट्री फार्मिंग व्यवसाय संगठन है। इसके अलावा पोंभुर्णा में, चंदा से बांदा योजना के तहत डेयरी व्यवसाय परियोजना, टूथ पिक उत्पादन परियोजना, बांस हस्तशिल्प और कला इकाई, मधुमक्खी पालन, कृषि उद्योग, आईटीसी कंपनी बांस विकास बोर्ड के सहयोग से अगरबत्ती उत्पादन जैसी परियोजनाएं कार्यान्वित की जा रही हैं। ऐसे में एमआईडीसी होने से इन उद्योगों को और बल मिलेगा।