Home हिन्दी फ़ोरम सीएसआर की तरह खिलाड़ियों को मिलेगा डेवलपमेंट फंड

सीएसआर की तरह खिलाड़ियों को मिलेगा डेवलपमेंट फंड

87
0
SHARE
 
Corporate Social Responsibility फंड की मदद से जिस तरह समाज में सकारात्मक बदलाव लाया जा रहा है उसी तर्ज पर अब नेशनल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फंड देश में खेलों के प्रचार और विकास के लिए मददगार साबित होगा। केंद्र और राज्य सरकारों, सार्वजनिक उद्यमों, निजी कंपनियों के सीएसआर योगदान से नेशनल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फंड में मदद किया जा सकेगा। इसके साथ ही खिलाड़ियों के लिए नकद पुरस्कार, राष्ट्रीय कल्याण एवं पेंशन की संशोधित योजनाओं का लाभ भी एक ही क्लिक से पाया जा सकेगा।

खिलाड़ियों की मदद के लिए कॉरपोरेट दे सकेंगे अपना सीएसआर

केंद्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने खिलाड़ियों के लिए नकद पुरस्कार, राष्ट्रीय कल्याण और पेंशन की संशोधित योजनाओं, खेल विभाग की योजनाओं के लिए वेब पोर्टल (dbtyas-sports.gov.in) और राष्ट्रीय खेल विकास कोष वेबसाइट (nsdf.yas.gov.in) का भी शुभारंभ किया। हम आपको बता दें कि राष्ट्रीय खेल विकास कोष यानी National Sports Development Fund देश में खेलों के प्रचार और विकास के लिए केंद्र व राज्य सरकारों, सार्वजनिक उपक्रमों, निजी कंपनियों और व्यक्तियों आदि के कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व (सीएसआर) के माध्यम से प्राप्त योगदान पर आधारित है।

सीएसआर (CSR) की तरह खिलाड़ियों के लिए होगा नेशनल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फंड (NSDF)

पोर्टल के माध्यम से अब खिलाड़ी, खेल सुविधाओं और खेल आयोजनों के लिए व्यक्तिगत, संस्था और कॉरपोरेट संगठन सीधे योगदान कर सकते हैं। एनएसडीएफ कोष का उपयोग लक्ष्य ओलंपिक पोडियम योजना, प्रख्यात खिलाड़ियों और खेल संगठनों द्वारा बुनियादी ढांचे के विकास आदि के लिए किया जाता है। केंद्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि, “यह समर्पित वेबसाइट न केवल खिलाड़ियों को बल्कि सीएसआर के लिए योगदानकर्ताओं को भी आसान और पारदर्शी पहुंच प्रदान करेगी। यह वेबसाइट देश में खेलों के विकास के लिए एनएसडीएफ को बड़ी सफलता दिलाने में हमारी मदद करेगी।”

नकद पुरस्कार, राष्ट्रीय कल्याण और पेंशन योजनाओं के लिए वेब पोर्टल लॉंच

युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय ने खेल विभाग की इन योजनाओं को स्पोर्ट्समैन के लिए अधिक अनुकूल, उपयोग में आसान और पारदर्शी बनाने की दृष्टि से अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में पदक विजेताओं एवं उनके प्रशिक्षकों के लिए नकद पुरस्कार की योजना, खिलाड़ियों के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय राष्ट्रीय कल्याण कोष और मेधावी खिलाड़ी पेंशन योजना में कई महत्वपूर्ण संशोधन किए हैं। वेब पोर्टल लॉन्च के दौरान अनुराग ठाकुर ने कहा कि, “अब कोई भी खिलाड़ी अपनी पात्रता के अनुसार तीनों योजनाओं के लिए सीधे आवेदन कर सकता है। पहले खेल संघों/भारतीय खेल प्राधिकरण के माध्यम से प्रस्ताव प्राप्त भेजे जाते थे, जो प्रस्तावों को प्रस्तुत करने में काफी समय लेते थे जो अब नहीं होगा। बहरहाल नेशनल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फंड खिलाडियों को काफी मददगार साबित होगा।