Home हिन्दी फ़ोरम यूपी के विकास में बुंदेलखंड लिखेगा नया अध्याय, बसेगा औद्योगिक शहर

यूपी के विकास में बुंदेलखंड लिखेगा नया अध्याय, बसेगा औद्योगिक शहर

698
0
SHARE
यूपी के विकास में बुंदेलखंड लिखेगा नया अध्याय, बसेगा नया औद्योगिक शहर
 
बुंदेलखंड के सतत विकास के साथ-साथ वन ट्रिलियन इकॉनमी की अर्थव्यवस्था बनने के अपने संकल्प को पूरा करने के लिए योगी सरकार (Yogi Government) ने एक महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक निर्णय लिया है। लोकभवन में सीएम योगी (CM Yogi Adityanath) की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में सरकार ने नोएडा की तर्ज पर बुंदेलखंड में नया औद्योगिक शहर बसाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी। इस निर्णय से बुंदेलखंड के जिलों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ा जा सकेगा और इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ ही यहां रोजगार की असीमित सुविधाओं का सृजन संभव हो सकेगा। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में इससे पहले 1976 में औद्योगिक शहर नोएडा के गठन का निर्णय लिया गया था और अब 47 सालों के बाद एक नए शहर की स्थापना का निर्णय लिया गया है।

बुंदेलखंड औद्योगिक शहर के लिए पहले चरण में 35 हजार एकड़ जमीन का होगा अधिग्रहण

कैबिनेट की बैठक के बाद वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने The CSR Journal से ख़ास बातचीत करते हुए बताया कि बैठक में मुख्यमंत्री औद्योगिक क्षेत्र विस्तारीकरण व नए औद्योगिक क्षेत्र प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत झांसी में बुंदेलखंड औद्योगिक विकास प्राधिकरण (BIDA – Bundelkhand Industrial Development Authority) द्वारा नोएडा की तर्ज पर एक नए इंडस्ट्रियल टाउनशिप (Industrial Township) को विकसित किए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई है। परियोजना के पहले चरण में झांसी के 33 राजस्व ग्रामों की 35 हजार एकड़ जमीन को अधिग्रहीत कर औद्योगिक शहर की स्थापना की जाएगी। इस जमीन की कीमत 6312 करोड़ रुपए है। यह योगी सरकार का बहुत बड़ा कदम है। इस ऐतिहासिक निर्णय से बुंदेलखंड के बहुआयामी विकास को तेज गति मिलेगी। झांसी (Jhansi) के आसपास का एरिया बड़े पैमाने पर विकसित हो जाएगा।

Bundelkhand Industrial City के विकास के साथ ही मिलेंगे रोजगार के अवसर

Bundelkhand Industrial Development Authority के माध्यम से कुल 14 हजार हेक्टेयर जमीन पर औद्योगिक शहर (Bundelkhand Industrial City) विकसित करने की योजना है। यह औद्योगिक शहर झांसी-ग्वालियर मार्ग पर प्रस्तावित है जो राष्ट्रीय राजमार्ग के माध्यम से देश के प्रमुख शहरों से भी जुड़ा होगी। यही नहीं, यह राष्ट्रीय राजमार्ग 27 से जालौन जनपद से गुजरने वाले बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे से जुड़कर प्रदेश के अन्य शहरों से अच्छी तरह जुडे़गी।बुंदेलखंड औद्योगिक विकास प्राधिकरण के अंतर्गत टाउनशिप समेत औद्योगिक स्थापना के लिए आवश्यक सभी आवश्यक सुविधाओं का यहां समावेश होगा। इसके गठन से क्षेत्र का सर्वागीण विकास होगा और बड़े पैमाने पर रोजगार (Employment in Uttar Pradesh) का सृजन होगा। जन सामान्य को क्षेत्रीय विकास के साथ ही रोजगार के अवसर हासिल होंगे, जिसका प्रत्यक्ष लाभ मिलेगा। यह कदम प्रदेश के विकास में भी बहुत बड़ा योगदान देगा।