Home हिन्दी फ़ोरम पीएम विश्वकर्मा योजना का फायदा लेने के लिए हो जाइए तैयार, जानें...

पीएम विश्वकर्मा योजना का फायदा लेने के लिए हो जाइए तैयार, जानें इससे किसे और कैसे होगा फायदा

644
0
SHARE
पीएम विश्वकर्मा योजना का फायदा लेने के लिए हो जाइए तैयार, जानें इससे किसे और कैसे होगा फायदा
 
अगले साल देश में लोकसभा का चुनाव होने जा रहा है। इससे पहले अपने जन्मदिन पर प्रधानमंत्री मोदी देश की बड़ी आबादी खासकर कामगारों को रोजगार का बड़ा तोहफा देने जा रहे है। PM Narendra Modi कामगारों की किस्मत बदलने जा रहे है। लाल किले की प्राचीर से इस बार पीएम मोदी ने विश्वकर्मा योजना लॉन्च  (Launch of PM Vishwakarma Scheme 2023) करने की घोषणा की, जिसका काउंटडाउन शुरू हो गया है। पीएम मोदी 17 सितंबर को विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर पीएम विश्वकर्मा योजना लॉन्च करेंगे। दरअसल भारत में भगवान विश्वकर्मा को सृजन और निर्माण का देवता माना जाता है। वास्तुकला औजार शिल्पकला मूर्तिकला समेत तमाम कौशल के लिए भगवान विश्वकर्मा ही पूजे जाते हैं।17 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी का भी जन्मदिन है और इस ख़ास अवसर और विश्वकर्मा पूजा पर प्रधानमंत्री कामगारों के लिए खास स्कीम विश्वकर्मा योजना को लांच करने जा रहे हैं।
दरअसल भारत में हाथ के हुनर की कमी नहीं है। कारीगरों और शिल्पकारों की गिनती करोड़ों में है ये वो लोग है जो अपने हाथ या हाथ से औजार चलाकर काम करते हैं यानी किसी भी तरह मशीन का इस्तेमाल नहीं होता। ये अर्थव्यवस्था के लिए बेहद अहम तो हैं लेकिन भारतीय इकोनॉमी का वो हिस्सा है जो असंगठित है।  कई बार ये हुनर पीढ़ी दर पीढ़ी ट्रांसफर होता है। इसमें सुनार, कुम्हार, बढ़ई, मूर्तिकार शामिल होते हैं। केंद्र सरकार ने पीएम विश्वकर्मा योजना (PM Vishwakarma Scheme 2023) को शुरू करने की घोषणा केंद्रीय बजट 2023-24 में की थी। इस योजना के लिए वित्त वर्ष 2023-24 से वित्त वर्ष 2027-28 तक वित्तीय परिव्यय 13,000 करोड़ रुपये रखा गया है।

Skill Training, Tool Kit और Loan भी कराएगी सरकार

PM Vishwakarma Scheme 2023 योजना के तहत लाभार्थियों को 15,000 रुपये का टूलकिट प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा। इसके साथ ही लाभार्थियों को 500 रुपये प्रति दिन के स्टाइपेंड के साथ आधारभूत कौशल प्रशिक्षण (PM Vishwakarma Scheme 2023 Skill Development) प्रदान किया जाएगा। इसका मकसद विश्वकर्माओं और कामगारों (Vishwakarma Workers) के उत्थान, उन्हें विकास की मुख्यधारा से जोड़ने और लाभ प्रदान कर आत्मनिर्भर बनाने का एक प्रयास है।

ऐसे लें पीएम विश्वकर्मा योजना के फायदे, पहले करें रजिस्ट्रेशन

पीएम विश्वकर्मा योजना के फायदे लेने के लिए सबसे पहले आपको इसके लिए रजिस्ट्रेशन और वेरिफिकेशन कराना होगा। जिसके बाद लाभार्थी कों पीएम विश्वकर्मा प्रमाण-पत्र तथा पहचान-पत्र यानि सर्टिफिकेट और आई कार्ड दिया जाएगा। आई कार्ड मिलने के बाद लाभार्थियों को टूलकिट के लिए 15000 की सहयोग राशि दी जाएगी जिससे वो काम शुरू करने के लिए ज़रूरी टूल सुविधाएं जुटा सकते हैं। योजना के लाभार्थियों को रोजाना 500 रुपए का स्टाइपेंड मिलेगा और उन्हें आधारभूत कौशल प्रशिक्षण यानि स्किल ट्रेनिंग भी दी जाएगी। स्किल ट्रेनिंग के बाद बिना गारंटी 1 लाख रुपए तक का लोन भी पा सकते हैं। स्किल ट्रेनिंग के बाद एडवांस स्किल ट्रेनिंग का भी मौका मिल सकता है। डिजिटल लेनदेन के लिए प्रोत्साहन राशि मिलेगी और सबसे बड़ी बात सरकार जब इतना कुछ करेगी तो ब्रांडिंग और इन्डोर्स करने के लिए भी तमाम प्लेटफार्म भी मुहैया कराएगी।

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा स्कीम में ये व्यवसाय/हुनर को किया गया है शामिल

मूर्तिकार ,पत्थर तराशने वाले
नाव बनाने वाला
अस्त्रकार यानि अस्त्र बनाने वाला
ताला बनाने वाले
हथौड़ा और टूलकिट बनाने वाले
पारंपरिक खिलौने और गुडिया बनाने वाला
चटाई टोकरी झाड़ू बनाने वाला
माला बनाने वाले
फिशिंग नेट बनाने वाले
सुनार यानि गोल्डस्मिथ
कुम्हार यानि पॉटर
चर्मकार जूता बनाने वाला
लोहार
बढ़ई
राज मिस्त्री
नाई बाल काटने वाला
धोबी
दर्जी

गेम चेंजर है पीएम विश्वकर्मा योजना

पीएम विश्वकर्मा योजना की घोषणा खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से 15 अगस्त 2023 को की थी। केंद्र सरकार इस योजना में अगले 5 साल में 13 हजार करोड़ रुपए खर्च करने का लक्ष्य लेकर चल रही है। गौरतलब है कि 2024 में चुनाव है इसलिए किसी भी योजना को सिर्फ समाज के उद्धार से जोड़कर कोई नहीं देखता राजनीति के लिहाज से भी इस योजना को एक बड़ा गेम चेंजर माना जा रहा है।