Home हिन्दी फ़ोरम अब सीएसआर फंड पाना होगा आसान, लांच हुआ एक्सचेंज पोर्टल

अब सीएसआर फंड पाना होगा आसान, लांच हुआ एक्सचेंज पोर्टल

58
0
SHARE
 
अगर आप एनजीओ चलाते है, या फाउंडेशन, या फिर सोशल एक्टिविटीज के लिए इम्प्लिमेंटिंग एजेंसी है और आपको सीएसआर के लिए फंड चाहिए तो अब ये आसान होने जा रहा है। अब कोई भी सीएसआर पहल बिना फंड्स के बंद नहीं होगी। इसके साथ ही अगर आप कोई कॉर्पोरेट्स है और आपको सीएसआर पहल से समाज में सकारात्मक बदलाव लाना है। लेकिन आपको ये समझ में नहीं आ रहा है कि कौन से सोशल सेक्टर में CSR Initiatives किया जाय या फिर कौन सी ऐसी एजेंसी है जो आपके साथ मिलकर सीएसआर पहल को इम्प्लीमेंट करे तो इस चिंता से आप मुक्त हो जाईये। क्योंकि सीएसआर में स्टेकहोल्डर्स से जुड़ाव, पारदर्शिता और जवाबदेही की दिशा में मिनिस्ट्री ऑफ़ कॉरपोरेट अफेयर्स ने एक सराहनीय कदम बढ़ाया है। Ministry of Corporate Affairs ने National CSR Exchange Portal लांच किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने National CSR Exchange Portal लांच किया।

सीएसआर फंड्स के लिए कॉरपोरेट हाउसेस और इम्प्लिमेंटिंग एजेंसीज के बीच समन्वय होगा आसान

नेशनल सीएसआर एक्सचेंज पोर्टल कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा सीएसआर स्टेकहोल्डर्स के लिए एक इंटरैक्टिव मंच स्थापित करने की एक पहल है। नेशनल सीएसआर एक्सचेंज पोर्टल (National CSR Exchange Portal) समूचे भारत के सामाजिक कल्याण के परियोजनाओं की मेजबानी करने वाले ई-मार्केटप्लेस के रूप में कार्य करेगा। जहां इम्प्लिमेंटिंग एजेंसियां अपनी चल रही परियोजनाओं की जरूरतों को रख सकते हैं और कंपनियां अपनी पसंद के अनुसार सीएसआर खर्च के लिए परियोजनाओं का चयन कर सकती हैं। यानी सीएसआर फंड्स की डिमांड करने वाली इम्प्लिमेंटिंग एजेंसियां और सीएसआर फंड्स देने वाले कॉरपोरेट्स के लिए National CSR Exchange Portal एक दूसरे के पूरक होंगे।

नेशनल सीएसआर एक्सचेंज पोर्टल क्यों?  (What is National CSR Exchange Portal?)

राष्ट्रीय सीएसआर एक्सचेंज पोर्टल को Corporate Social Responsibility 2018 पर उच्च स्तरीय समिति की सिफारिशों के आधार पर विकसित किया गया है। पोर्टल को बनाने के लिए एक सलाहकार तकनीकी समिति का गठन किया गया था। अधिकांश कॉरपोरेट्स के पास Social Development में कोई कोर एक्सपर्टीज नहीं होती है इसलिए Corporates परियोजनाओं को क्रियान्वित करने के लिए एक Implementing Agencies का चयन करती हैं। ये एजेंसीज सीएसआर गतिविधियों को करने के लिए जानकार तो होती है लेकिन इनके पास फंड्स का अभाव होता है। यह एक्सचेंज पोर्टल कॉरपोरेट्स को उनकी लेनदेन लागत को कम करने के लिए उनकी सीएसआर परियोजनाओं के सफल कार्यान्वयन के लिए उपयुक्त कार्यान्वयन एजेंसियों की पहचान करने में मदद करेगा।

सीएसआर पाने के लिए नेशनल सीएसआर एक्सचेंज पोर्टल पर करना होगा रजिस्ट्रेशन

बड़ी संख्या में गैर-सरकारी एजेंसियां (एनजीओ) हैं जो अपनी परियोजनाओं के लिए CSR Funds की तलाश कर रही हैं जो सीएसआर के क्षेत्र में फिट हो सकती हैं। राष्ट्रीय सीएसआर एक्सचेंज पोर्टल देश की बेहतरी के लिए काम करने के लिए कॉरपोरेट्स और इम्प्लिमेंटिंग एजेंसियों को जोड़ने में मदद करेगा। रजिस्टर्ड कॉर्पोरेट्स और रजिस्टर्ड इम्प्लिमेंटिंग एजेंसियां पोर्टल पर पंजीकरण करा सकती हैं। पंजीकृत CSR Implementing Agencies वे एजेंसियां हैं जो मिनिस्ट्री ऑफ़ कॉरपोरेट अफेयर्स से पंजीकृत हैं और जिनके पास वैध सीएसआर पंजीकरण संख्या (CRN – सीआरएन) है। और रजिस्टर्ड कॉरपोरेट वे कॉरपोरेट हैं जो Ministry of Corporate Affairs से पंजीकृत हैं और जिनके पास एक वैध कॉर्पोरेट पहचान संख्या (CIN) है।

सीएसआर फंड देने और पाने के लिए आपको ये करना होगा (Need CSR Funds, Try This)

National CSR Exchange Portal पर एक ऑप्शन में रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल (आरएफपी) के जरिये Registered Corporate इस पोर्टल पर परियोजना के लिए CSR Funds उपलब्ध कराने के लिए अनुरोध स्वीकार करता है। वहीं रिक्वेस्ट फॉर फंड्स (आरएफएफ) ऑप्शन में CSR Implementing Agencies इस पोर्टल पर परियोजना के लिए CSR Funds मांगने का अनुरोध करती है। राष्ट्रीय सीएसआर एक्सचेंज पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क नहीं है।