Home हिन्दी फ़ोरम महाराष्ट्र में बंपर रोजगार, इस क्षेत्र में मिल सकती है नौकरी

महाराष्ट्र में बंपर रोजगार, इस क्षेत्र में मिल सकती है नौकरी

102
0
SHARE
महाराष्ट्र में युवाओं के लिए बंपर रोजगार, जानें किस क्षेत्र में मिल सकती है आपको नौकरी
 
दावोस (Davos) में हुए World Economic Forum में महाराष्ट्र सरकार ने दुनिया भर की विभिन्न कंपनियों के साथ करीब 1 लाख 40 हजार करोड़ रुपये के निवेश समझौते किए हैं। महाराष्ट्र में होने वाले 1 लाख 40 हजार करोड़ रुपये के निवेश से राज्य में एक लाख नौजवानों को रोजगार सृजित होंगे। राज्य में जल्द से जल्द युवाओं को नौकरियां मिल सके इसलिए महाराष्ट्र सरकार नए उद्योगों को 30 दिनों के भीतर तमाम परमिशन के लिए नए कानून के तहत तुरंत एक नीति तैयार कर रही है। घरेलू और विदेशी निवेशकों द्वारा पहली बार दावोस में महाराष्ट्र द्वारा इतनी बड़ी संख्या में MoU हुआ है। और इतने बड़े पैमाने पर युवाओं के लिए रोजगार के अवसर मिलेंगे।

राज्य में उद्योग विकास का अनुकूल वातावरण, इंफ़्रा और कुशल जनशक्ति है – सीएम एकनाथ शिंदे

The CSR Journal से ख़ास बातचीत करते हुए महाराष्ट्र मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने बताया कि राज्य में उद्योग के विकास के लिए अनुकूल वातावरण है और अच्छी बुनियादी ढांचा और कुशल जनशक्ति है। इसलिए, Corporates को मैग्नेटिक महाराष्ट्र (Magnetic Maharashtra) में निवेश करने का अवसर है और उद्यमियों ने दावोस में महाराष्ट्र के विभिन्न क्षेत्रों में निवेश करने के लिए अपनी प्राथमिकता दिखाई है।

महाराष्ट्र में बंपर रोजगार का अवसर, इन क्षेत्रों में है नौकरियां ही नौकरियां (Employment in Maharashtra)

हाईटेक और इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में 54 हजार 276 करोड़

महाराष्ट्र के विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों में निवेश किया गया है, जिसमें 54,276 करोड़ रुपये के निवेश के लिए हाई-टेक और इंफ्रास्ट्रक्चर क्षेत्रों की छह कंपनियों के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि इसके माध्यम से 4300 रोजगार सृजित होंगे।

एनर्जी और इलेक्ट्रिक व्हीकल सेक्टर में 46 हजार 800 करोड़

ऊर्जा क्षेत्र में रिन्यूएबल एनर्जी और इलेक्ट्रिक वाहन (Electric Vehicle in Maharashtra) क्षेत्रों में 46,800 करोड़ रुपये के समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए हैं। CM Eknath Shinde ने कहा कि इससे 45 हजार रोजगार सृजित होंगे।

आईटी, फिनटेक, डाटा सेंटर के क्षेत्र में 32 हजार 414 करोड़

Information Technology (आईटी), फिनटेक, डाटा सेंटर (Data Centre) के क्षेत्र में 32 हजार 414 करोड़ रुपये के निवेश समझौते पर हस्ताक्षर किये गये हैं और 8700 लोगों को रोजगार मिलेगा। आयरन उत्पादन क्षेत्र में 2200 करोड़ रुपये का निवेश किया गया है और 3000 लोगों को रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने बताया कि कृषि और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग क्षेत्र में 1900 करोड़ रुपये के एमओयू पर हस्ताक्षर किये गये हैं, जिससे करीब 600 लोगों को रोजगार मिलेगा।

महाराष्ट्र में रोजगार देने के लिए उद्योग की बनेगी नई रणनीति

मुख्यमंत्री ने कहा कि उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (DCM Devendra Fadnavis) और मंत्रिमंडल के सदस्यों ने राज्य सरकार के माध्यम से लोगों के हित में निर्णय लेने के साथ-साथ उद्योग के विकास को बढ़ावा देने के लिए उद्यमियों के लिए एक नई नीति तय की है। नई नीति में सिंगल विंडो योजना, पूंजीगत सब्सिडी, जीएसटी टैक्स सब्सिडी के साथ-साथ नई तकनीक और बड़े उद्यमों को विशेष पैकेज देने के निर्णय की जानकारी मुख्यमंत्री शिंदे ने दी।

महाराष्ट्र में रोजगार में भूमिपुत्रों को प्रधान्य, 80 फीसदी स्थानीय लोगों को नौकरियों में प्राथमिकता

महाराष्ट्र में शुरू होने वाली नई परियोजनाओं में 80 फीसदी स्थानीय लोगों को नौकरियों में प्राथमिकता देने के लिए विशेष निगरानी दल लगाया जाएगा। दावोस में जितने भी MoU हुए उन्हें 30 दिन के अंदर इस उद्योगों को अनुमति मिल सके ऐसा भी प्रयत्न किया जा रहा है। सरकार राज्य के जिन जिलों में उद्योग नहीं हैं, वहां उद्योग शुरू करने के लिए उद्यमियों को रियायतें देकर हर जिले में औद्योगिक विकास के प्रयास करेगी। वही उद्योग मंत्री उदय सामंत ने बताया कि प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के माध्यम से, सरकार ने राज्य और युवा पीढ़ी के लिए सही निर्णय लिए हैं, और सरकार बेरोजगारी को खत्म करने और दुनिया में एक औद्योगिक रूप से विकसित राज्य बनने का प्रयास कर रही है।