Home हिन्दी फ़ोरम वुहान जैसे हो रहें है मुंबई के हालात

वुहान जैसे हो रहें है मुंबई के हालात

4
0
SHARE
 
देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में हालात दिन ब दिन बदतर होते जा रहें है, कोरोना के संक्रमण लगातार बढ़ते जा रहें है, आलम ये है कि चिंता ये भी सताने लगी है कि मुंबई कहीं वुहान की डगर पर तो नहीं है, बीएमसी द्वारा जारी आकड़ों के मुताबिक मुंबई के आंकड़े डरावने है, अकेले शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव के मामलों में जबरदस्त इजाफा देखने को मिला। वहीं मौतों के आंकड़े डराने वाले है।

एक दिन में मुंबई में कोरोना के 218 नए मामले

शुक्रवार को एक ही दिन में सिर्फ मुंबई में कोरोना के 218 नए मामले सामने आए। साथ ही कोरोना के 10 मरीजों की मौत हुई। अब तक मुंबई शहर में ही कुल 64 लोगों की कोरोना के चलते मौत हो चुकी है। इस तरह मुंबई में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 993 हो गई है। अच्छी बात ये भी कि चार लोग शुक्रवार को ठीक भी हुए। मुंबई में कोरोना के चलते कुल ठीक हुए लोगों की संख्या 69 हो चुकी है।
देश के दूसरे राज्यों से महाराष्ट्र की तुलना करें तो महाराष्ट्र अव्वल पर है, महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने The CSR Journal से बात करते हुए बताया कि शुक्रवार तक महाराष्ट्र में1574 मरीज है, और 188 मरीजों का कोरोना नेगेटिव आने के बाद उन्हें डिस्चार्ज दे गया। सरकारी अमलों और नेताओं की माने तो महाराष्ट्र में आंकड़े इसलिए बढ़ रहें है क्योंकि महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा टेस्टिंग हो रही है।

महाराष्ट्र में 125 डिस्चार्ज, 40 हजार क्वारंटीन किये गए

महाराष्ट्र में अब तक 30 हजार से अधिक लोगों के सैंपल की लैब में चेकिंग हो चुकी है। इनमें से 1574 को छोड़ सभी की रिपोर्ट रिपोर्ट नेगेटिव आई है। वहीं 35 हजार से ज्यादा लोगों को होम क्वारंटीन किया गया है, जबकि 4 हज़ार से ज्यादा लोग इंस्टिट्यूशनल क्वारंटीन हैं।

मुंबई की झोपड़ियां है खतरनाक

मुंबई में कोरोना का हाल यह है कि एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी-बस्ती धारावी में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। वहां मौतों का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। वही इसी तरह अकेले मुंबई में 381 कन्टेनमेंट जोन बनाये गए है। इन कन्टेनमेंट जोन में बहुत सख्ती बरती जा रही है, यहां पूरी तरह से कर्फ्यू का पालन कराया जा रहा है। दुकानें भी बंद है, जरूरी संसाधन खुद सरकार घरों तक पहुंचा रही है। बहरहाल इन्ही सब हालातों को देखते हुए ये कहा जा रहा है कि कहीं वुहान की डगर पर मुंबई तो नही है न।

सीएम उद्धव ठाकरे ने लॉक डाउन बढ़ाने की मांग

लॉक डाउन होने के बावजूद मुंबई और महाराष्ट्र में मामले बढ़ रहें है और अगर लॉक डाउन खत्म किया गया तो मामला और भी गंभीर सो सकता है और यही चिंता हर राज्यों ने व्यक्त किया। इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार मुख्यमंत्रियों के साथ तीसरी बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। कॉन्फ्रेंसिंग में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने पर चर्चा हुई। महाराष्ट्र सीएम उद्धव ने लॉकडाउन बढ़ाने की मांग की।