Home हिन्दी फ़ोरम L&T Realty के CSR द्वारा लगाया गया 70 लाख का कर्ब स्टोन...

L&T Realty के CSR द्वारा लगाया गया 70 लाख का कर्ब स्टोन अब कचरे के ढ़ेर में

268
0
SHARE
 
प्लास्टिक से बने सफ़ेद और नीले रंग के इन ब्लॉक्स को कर्ब स्टोन कहा जाता है। ये प्लास्टिक के स्टोन्स हीरे जवाहरात जैसे तो नहीं है लेकिन इन कर्ब स्टोन्स की कीमत हीरे जवाहरात से कम भी नहीं है। कभी ये कर्ब स्टोन परेल के रास्तों पर लगे हुए थे लेकिन आज ये कचरे के ढ़ेर में है। जनवरी 2022 में लगभग 70 लाख खर्च करके एल एंड टी रियल्टी (L&T Realty CSR) ने अपने सीएसआर पहल से ये सेफ्टी कर्ब स्टोन (Safety Kerb Stone) लगाए थे लेकिन टूटते-टूटते ये कर्ब स्टोन आज कचरे के ढ़ेर पड़ा है। ब्यूटीफिकेशन और रोड सेफ्टी (CSR In Road Safety) के नाम पर सीएसआर फंड्स का इस्तेमाल करने से पहले L&T Realty ने एक बार भी नहीं सोचा कि रोड पर पत्थर की जगह प्लास्टिक के कर्ब स्टोन लगाएंगे तो इसका अंजाम सीएसआर का व्यर्थ ही होगा।

जहां स्लम नहीं वहां स्लम एरिया डेवलपमेंट दिखाकर L&T Realty ने 70 लाख खर्च कर सीएसआर पहल किया

सेफ्टी कर्ब स्टोन का उद्घाटन इसी साल जनवरी महीने में किया गया लेकिन अप्रैल आते-आते ये कर्ब स्टोन टूटने लगे थे जिसे The CSR Journal ने प्रमुखता से दिखाया भी था और नवंबर आते-आते परेल के रास्तों से कर्ब स्टोन नदारद भी हो गया। सीएसआर कानून (CSR Law) के मुताबिक शेड्यूल VII में अंकित एक्टिविटीज ही किया जा सकता है जिसका जिक्र कंपनी को सीएसआर रिपोर्ट में करना होता है लेकिन L&T Realty के सीएसआर रिपोर्ट की मानें तो ये तथ्य भी चौकाने वाला है। स्लम एरिया डेवलपमेंट एक्टिविटी के तहत L&T Realty ने 70 लाख खर्च कर ये सीएसआर पहल किया लेकिन जहां ये किया गया वहां कोई स्लम है ही नहीं। ऐसे में सीधे तौर पर ये जरूर कहा जा सकता है कि L&T Realty ने झूठा स्लम जो है ही नहीं उसे स्लम दिखाकर सीएसआर एक्टिविटीज किया।

The CSR Journal के सवालों का एल एंड टी रियल्टी के पास कोई जवाब नहीं

सेफ्टी कर्ब स्टोन और सीएसआर पहल को लेकर जब The CSR Journal ने एल एंड टी रियल्टी से सवाल किया कि कहां गायब हो गए आप द्वारा लगाए गए सेफ्टी स्टोन कर्ब?
परेल में जहां आप द्वारा सीएसआर पहल किया गया वहां स्लम है ही नहीं ऐसे में स्लम एरिया डेवलपमेंट के तहत आपने क्यों झूठ बोला?
मुंबई महानगर पालिका के सूत्रों की मानें तो प्लास्टिक से बने ये सेफ्टी कर्ब स्टोन लगने के बाद टूटने लगे थे, इसमें फंसकर कई राहगीर चोटिल भी हुए और तो और टूटे हुए सेफ्टी कर्ब स्टोन में पानी भी भर जाता और उसमें मच्छर पलते और इलाके में मलेरिया फैलाते। शिकायतों को देखते हुए बीएमसी ने एल एंड टी रियल्टी के सीएसआर पहल (Corporate Social Responsibility) से लगे कर्ब स्टोन को निकालने का निर्णय लिया। हम आपको बता दें कि फुटपाथ पर लगे सेफ्टी कर्ब स्टोन परेल इलाके में लगाया गया था जहां टाटा कैंसर, केईएम, वाडिया जैसे अस्पताल है। देश के कोने कोने से लोग यहां इलाज कराने आते हैं और इसी फुटपाथ पर रहने को मजबूर रहते है। कर्ब स्टोन लगाने के बजाय अगर इसी फुटपाथ पर सोने वाले लोगों के लिए कुछ किया जाता तो शायद ज्यादा अच्छा होता।

L&T Realty को जिम्मेदारी से करना चाहिए CSR पहल

सीएसआर के नाम पर L&T Realty ने इन कर्ब स्टोन पर 70 लाख खर्च किये। सीएसआर फंड्स का इस्तेमाल करने से पहले L&T Realty को ज्यादा जिम्मेदार होने की जरूरत है ताकि समाज में सीएसआर की सरोकारिता का मतलब सिद्ध हो सके।