Home Header News हैदराबाद में हैवानियत, डॉक्टर से रेप के बाद जिंदा जलाया 

हैदराबाद में हैवानियत, डॉक्टर से रेप के बाद जिंदा जलाया 

12
0
SHARE
 
हमारे समाज को हो क्या गया है, क्यों हम ये भूल जाते है कि जिसकी वजह से हमारा वजूद है वो एक महिला की वजह से है, क्यों हम हर महिला को सम्मान की नज़र से नहीं देखते, क्यों आज का हमारा समाज वहशी होता जा रहा है, क्यों समाज में ऐसे राक्षस पैदा हो जाते है जो महिलाओं को इज्जत की नज़र से नहीं देखते, एक बार फिर से कुछ हैवानों ने एक सपने को तार तार कर दिया, हैवानों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी और जो कर डाला जिससे फिर से देश गुस्से में है, देश इन्साफ की मांग कर रहा है, हम पीड़िता की पहचान उजागर तो नहीं कर सकते लेकिन ये जरूर बताएँगे कि वो डॉक्टर थी, बेजुबान जानवरों की दुखदर्द दूर करती थी, वो वेटनरी डॉक्टर बनने के लिए बचपन से से सपने संजोय थी और आखिरकार उसका सपना पूरा भी हुआ, लेकिन हैवानों ने डॉक्टरों से सब कुछ छीन लिया।
महिला डॉक्टर की गलती महज इतनी कि उसने मदद मांगी लेकिन हैवानों ने ना सिर्फ उसकी इज्जत को तार तार किया बल्कि उसे मौत के घाट भी उतार दिया। मामला हैदराबाद का है जहाँ टू-व्हीलर का टायर पंक्चर होने के बाद एक टोल प्लाजा के पास इंतजार कर रही 26 वर्षीय वेटनरी डॉक्टर की बुधवार रात हत्या कर दी गई। डॉक्टर का अध जला हुआ शव गुरुवार सुबह मिला। शुरुआती जांच के बाद पुलिस ने पाया कि हत्या से पहले युवती से दुष्कर्म हुआ। साइबराबाद पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। दरअसल वेटनरी डॉक्टर शादनगर में रहती थी और यहां से करीब 30 किलोमीटर दूर शम्शाबाद में एक वेटनरी हॉस्पिटल में काम करती थी। वह हर दिन हैदराबाद-बेंगलुरु नेशनल हाईवे स्थित टोंडुपल्ली टोल प्लाजा पर अपना टू-व्हीलर पार्क करती थी और वहां से कैब लेकर अस्पताल तक जाती थी।
रात में जब वह लौटी तो उनकी स्कूटी पंक्चर थी, इसके बाद पीड़िता ने अपनी बहन को फोन किया और इसकी जानकारी दी, पीड़िता ने बहन से कहा कि मुझे डर लग रहा है, इस पर बहन ने प्रियंका को टोल प्लाजा जाने और कैब से आने की सलाह दी थी, पीड़िता ने कहा कि कुछ लोगों ने मदद की पेशकश की है और थोड़ी देर बाद कॉल करती हूं, इसके बाद उसका मोबाइल फोन स्वीच ऑफ हो गया, परिजनों ने शादनगर टोल प्लाजा के पास प्रियंका की खोजबीन की, लेकिन वह नहीं मिली, सुबह शादनगर के अंडरपास के पास उसकी जली हुई लाश मिली।
मामले को लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग ने अपनी नाराजगी जाहिर की है। आयोग अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा कि ऐसा लगता है कि सड़कों पर भेड़िये खुले घूम रहे हैं, जो सिर्फ एक महिला पर झपटा मारने के लिए इंतजार कर रहे हैं। साथ ये भी मांग की कि दोषियों से जल्द गिरफ्तार कर उन्हें फांसी दी जानी चाहिए। आयोग का एक सदस्य वहां जाएगा और पीड़ित परिवार की हरसंभव मदद भी करेगा। इस बीच हत्‍याकांड के विरोध में हैदराबाद में जमकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। सोशल मीडिया में भी पीड़‍िता को न्‍याय दिलाने के लिए हजारों ट्वीट किए जा रहे हैं।