Home हिन्दी फ़ोरम गौतम अदाणी परिवार करेगा 60000 करोड़ रुपए का दान

गौतम अदाणी परिवार करेगा 60000 करोड़ रुपए का दान

65
0
SHARE
अदाणी परिवार करेगा 60000 करोड़ रुपए का दान, आत्मनिर्भर भारत को मिलेगा बल
 
एशिया के सबसे अमीर कारोबारी गौतम अदाणी ने अपने 60वें जन्मदिन पर एक ऐसा ऐलान किया है कि देश के जनकल्याण कार्यों को और भी मजबूती मिलेगी। दरअसल शांतिलाल अदाणी की 100वीं जयंती और गौतम अदाणी के 60वें जन्मदिन पर अदाणी परिवार ने 60,000 करोड़ रुपए दान करने का फैसला किया (Gautam Adani and his Family Donated 60000 cr) है। दान की यह राशि हेल्थ केयर, एजुकेशन और स्किल डेवलपमेंट समेत कई सामाजिक कार्यों के लिए खर्च की जाएगी। जिससे किसी भी क्षेत्र में आयी कमी को दूर किया जा सकेगा।

महादान के बाद गौतम अदाणी ने ख़ुशी जाहिर करते हुए ये कहा

इस महादान के बाद अदाणी समूह के चेयरमैन गौतम अदाणी ने कहा कि, ‘देश में हेल्थ केयर, एजुकेशन और स्किल डेवलपमेंट को बढ़ाने में योगदान करने का अवसर मिलने के लिए खुशी महसूस कर रहा हूं। हेल्थ केयर, एजुकेशन और स्किल डेवलपमेंट से जुड़े कार्यक्रमों को बेसिक लेवल पर काम करना चाहिए। यह सामूहिक रूप से भारत के निर्माण में मोटिवेशनल बनते हैं’। किसी भी क्षेत्र में कोई भी कमी रही तो ‘आत्मनिर्भर भारत’ के लिए रुकावट साबित हो सकती है। अदाणी परिवार ने उन सभी कम्युनिटीज के साथ काम किया है, जो इन सभी क्षेत्रों में इंटीग्रेटेड डेवलपमेंट पर काम करने का बेहतर एक्सपीरियंस रखते हैं।

अजीम प्रेमजी ने गौतम अदाणी के इस काम को सराहा और दी शुभकामनाएं

अदाणी समूह के इस महादान पर विप्रो के संस्थापक अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के अध्यक्ष और समाजसेवी अजीम प्रेमजी ने कहा कि, ‘गौतम अदाणी और उनके परिवार की सामाजिक परोपकार के प्रति जुनून एक उदाहरण पेश करता है। यह उदाहरण है कि हम सभी महात्मा गांधी के ट्रस्टीशिप के सिद्धांत को अपने व्यावसायिक जीवन में भी ला रहे हैं। हमारे देश की चुनौतियों और संभावनाओं की मांग है कि हम धन, क्षेत्र, धर्म, जाति वगैरह को हटाकर एक साथ विकास के लिए काम करें। मैं गौतम अदाणी और उसके परिवार के इस राष्ट्रीय प्रयास के लिए शुभकामनाएं देता हूं’।

सीएसआर, परोपकार और जनकल्याण के लिए अदाणी फाउंडेशन ने जमीनी स्तर पर किया है काम

हम आपको बता दें कि सीएसआर (CSR of Adani), परोपकार और जनकल्याण के लिए अदाणी फाउंडेशन लगातार जमीनी स्तर पर काम कर रही है। पिछले कई सालों से अदाणी फाउंडेशन ने सतत विकास लक्ष्यों (SDG -Sustainable Development Goals) के साथ कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़ते हुए समाज की बदलती जरूरतों को समझा है। फिर चाहे वह स्थायी आजीविका, स्वास्थ्य और पोषण की बात हो या फिर सभी के लिए शिक्षा या पर्यावरण संबंधी चिंताओं का निपटारा करते हुए महिला सशक्तिकरण को केंद्र में रखने का मुद्दा हो, अदाणी फाउंडेशन ने जमीनी स्तर पर कई स्टेक होल्डर्स के साथ काम किया है। आज यह भारत के 16 राज्यों के 2,409 गावों में 3.7 मिलियन लोगों को अपनी सेवाओं के जरिये विकास के पथ से जोड़ रहा है।