Home हिन्दी फ़ोरम कोरोना की लड़ाई में कोका-कोला इंडिया देगी 50 करोड़

कोरोना की लड़ाई में कोका-कोला इंडिया देगी 50 करोड़

178
0
SHARE
कोरोना की लड़ाई में कोका-कोला इंडिया देगी 50 करोड़
 
कोरोना से टीकाकरण को आसान बनाने, सेफ्टी किट्स प्रदान करने, जागरूकता करने और पेय पदार्थों के वितरण के लिये 50 करोड़ रुपये खर्च करेगी कोका-कोला इंडिया। कोरोना वायरस की दूसरी लहर के प्रकोप से राहत देने के लिये पूरे देश में चल रहे प्रयासों को गति देने के लिए कोका-कोला ने भारत में 50 करोड़ रुपये की मदद देने का ऐलान किया है। यह संकट का मुकाबला करने में देश के प्रयासों को बल देने और महामारी के फैलाव को नियंत्रित करने के लिये है। भारत में कोका-कोला सिस्टम कोविड टीकाकरण को आसान बनाएगा, सुरक्षा किट्स प्रदान करेगा, जागरूकता करेगा और हमारे देश की फ्रंट लाइन को ड्रिंक्स यानी पेयों का वितरण करेगा।

कोरोना से लड़ने के लिए Coca-Cola ने ‘स्टॉप द स्प्रेड’ फंड बनाया है

अपने डायरेक्ट रिस्पॉन्स के अलावा, Coca-Cola India के बॉटलिंग पार्टनर्स ने टीकाकरण शिविरों की व्यवस्था की है, कम्युनिटी किचंस को सहयोग दिया है, राहत सामग्री और एम्बुलेंस सपोर्ट प्रदान किया है, और पूरे देश में मोबाइल कोविड बेड्स, वेंटिलेटर्स और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर कंसेन्ट्रेटर्स दान किये हैं। कोविड-19 महामारी में सहयोग देने के लिये द कोका-कोला कंपनी ने पूरे विश्व  में एक खास ‘स्टॉप द स्प्रेड’ फंड बनाया है। इस फंड का इस्तेमाल टीकों के वितरण को आसान बनाने, कोविड सेफ्टी किट्स (पीपीई- मास्क, ग्लोज, सैनिटाइजर) प्रदान करने और टीकाकरण तथा स्वच्छता अपनाने पर जागरूकता निर्मित करने के लिये होगा, ताकि महामारी के फैलाव को नियंत्रित किया जा सके।

कोका-कोला कंपनी के इस पहल से 10 लाख लोगों को होगा फायदा

Coca-Cola के इस पहल से सकारात्मक प्रभाव 10 लाख से ज्यादा भारतीयों पर होगा। कोका-कोला कंपनी दुनिया की सबसे बड़ी पेय कंपनी है, जोकि 500 से अधिक स्पाकर्कलिंग एवं स्टिल ब्रांडों और लगभग 3,900 पेय विकल्पों के साथ ग्राहकों के लिए मौजूद है। हर दिन 200 से अधिक देशों के उपभोक्ता कोका कोला ड्रिंक्स की 1.9 बिलियन से अधिक लोग कंज्यूम करते है। कोका-कोला इंडिया इसके पहले भी सीएसआर (CSR) के तहत कई ऐसे पहल कर चुकी है, जिससे समाज में सकारात्मक बदलाव आये है।