Home Header News अब यूपी के बांदा में भी होने लगा सीएसआर, 22 लाख खर्च

अब यूपी के बांदा में भी होने लगा सीएसआर, 22 लाख खर्च

725
0
SHARE
अब यूपी के बांदा में भी होने लगा सीएसआर, 22.50 लाख रुपये खर्च
 
स्कूलों में बच्चों को सुविधाएं देने के लिए सरकार तो हर संभव प्रयास करती है लेकिन इसमें कॉरपोरेट भी सामने आकर सरकार के साथ मिलकर बच्चों के सुनहरे भविष्य के लिए पढ़ाई में अपना योगदान दे रही है। उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में Corporates ने अपना सामाजिक जिमेदारी निभाते हुए CSR किया है। Uttar Pradesh Banda News उत्तर प्रदेश के बांदा जिले के जवाहर नवोदय विद्यालय में सीएसआर फंड से असेंबली शेड बनाया गया है। Jawahar Navodaya Vidyalaya में बने Assembly Shade को बांदा की डीएम Durga Shakti Nagpal की मौजूदगी में ये छात्रों को समर्पित किया गया।

सरकारी बैंकों ने दिया बांदा के स्कूल को सीएसआर, बना शेड

यूनियन बैंक, आर्यावर्त बैंक और इंडियन बैंक के Corporate Social Responsibility Fund के सहयोग से Jawahar Navodaya Vidyalaya में ये Assembly Shade लगाया गया है। जिसके लिए कंपनियों ने 22.50 लाख रुपये खर्च किये है। बांदा की डीएम Durga Shakti Nagpal की मौजूदगी में इस विकास के काम को विद्यालय को समर्पित किया गया। हम आपको बता दें कि ये काम दो महीनों से चल रहा था और अब जाकर इसे पूरा किया जा सका। बांदा की डीएम से जब The CSR Journal की टीम ने बात किया तो दुर्गा शक्ति नागपाल ने बताया कि बच्चों की सुविधाओं के लिए ये शेड बनाया गया है। इस शेड से साल भर सभी मौसम गर्मी, बारिश व सर्दी में विधालय के कई उद्देश्य पूरे होंगे।

अब तक Banda में नहीं होता था CSR

सरकारी आकड़ों की माने तो उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में CSR का खर्च नहीं होता था, साल 2021-22, 2020-21, 2019-20 की बात करें तो बांदा में एक भी रुपये का सीएसआर से विकास का काम नहीं हुआ है। ऐसे में जिलाधिकारी दुर्गा शक्ति नागपाल की मदद से जिले में अब सीएसआर होने लगा है ये बहुत ही सराहनीय काम है। बहरहाल जवाहर नवोदय विद्यालय में सीएसआर फंड से बने असेंबली शेड से बच्चों को बहुत राहत मिलने वाली है। चाहे बारिश हो या धुप, अब तक बच्चों को आसमान के निचे असेंबल होना पड़ता था लेकिन इस शेड के बाद बच्चों को बहुत सहूलियतें मिलने वाली है।