Home Header News हरियाणा – घायल जानवरों की मदद के लिए सीएसआर का होगा इस्तेमाल

हरियाणा – घायल जानवरों की मदद के लिए सीएसआर का होगा इस्तेमाल

607
0
SHARE
हरियाणा - घायल जानवरों की मदद के लिए सीएसआर का होगा इस्तेमाल, करें इस टोल फ्री नंबर पर कॉल
 
हरियाणा में अगर आपको कोई घायल या आवारा जानवर दिखाई दे तो आप तुरंत मदद हासिल करने के लिए 1962 नंबर्स पर कॉल कर सकते हैं। ये नंबर्स टोल फ्री है जहां पर आपको कई सर्विस मिल जाती है। जिनमें से आपको तुरंत एनिमल रेस्क्यू करने के लिए टीम की भी सहायता मिल सकती है। हरियाणा में घायल जानवरों की मदद के लिए अब सीएसआर फंड का इस्तेमाल किया जायेगा। हरियाणा स्टेट सीएसआर ट्रस्ट (Haryana State CSR Trust – HSCSRT) और डीएलएफ फाउंडेशन (DLF Foundation) ने घायल जानवरों की मदद की ये मिलकर शुरू किया है। फिलहाल इसे सिर्फ गुरुग्राम शहर में शुरू किया जाएगा। सभी आवारा जानवरों के लिए गुरुग्राम में अपनी तरह की पहली निःशुल्क पशु एम्बुलेंस (Animal Ambulance in Haryana) सेवा होगी।

सीएसआर पहल को लेकर हरियाणा सीएसआर ट्रस्ट और डीएलएफ फाउंडेशन के बीच समझौता

हरियाणा स्टेट सीएसआर ट्रस्ट (Haryana State CSR Trust – HSCSRT) के सह-संयुक्त सचिव और गुरुग्राम के उपायुक्त आईएएस निशांत कुमार यादव और डीएलएफ फाउंडेशन (DLF Foundation) की सीईओ गायत्री पॉल ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। जिसके तहत हरियाणा सरकार के पशुपालन और डेयरी विभाग के सहयोग से संकटग्रस्त आवारा जानवरों को समय पर चिकित्सा सहायता और आपातकालीन सेवाएं प्रदान करने के लिए एंबुलेंस को शुरू किया जायेगा। The CSR Journal से ख़ास बातचीत करते हुए Haryana State CSR Trust के Additional Chief Executive Officer गौरव सिंह (Gaurav Singh) ने बताया कि इस पहल को डीएलएफ फाउंडेशन (DLF Foundation) फण्ड कर रही है, जल्द ही एम्बुलेंस के खरीद को लेकर टेंडर प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी और जानवरों की सेवा में ये Animal Ambulance तैनात कर दिए जायेंगे।

देश के अन्य राज्यों में भी जानवरों के लिए सीएसआर की मदद से चलाये जाते है Animal Ambulance

ये एम्बुलेंस सेवा (Animal Ambulance Number) पूरी तरह से फ्री होगी और इससे चोट और दुर्घटनाओं से पीड़ित आवारा जानवरों को लाभ मिलेगा। यह गुरुग्राम के राजीव चौक स्थित पशुपालन विभाग के उपनिदेशक कार्यालय में तैनात रहेगी और पूरे गुरुग्राम जिले के साथ-साथ हरियाणा के अन्य हिस्सों में भी जरूरत के अनुसार अपनी सेवाएं प्रदान करेगी। हम आपको बता दें कि घायल जानवरों की मदद के लिए देश की अन्य राज्यों द्वारा भी पहल की जा रही है। मध्य प्रदेश सरकार भी अपने एंबुलेंस से गाय और अन्य पशुओं के इलाज के लिए सेवाएं देती है। मध्य प्रदेश में कुल 407 एंबुलेंस हर ब्लॉक स्तर पर है। उत्तर प्रदेश में भी इस तरह की योजना की शुरुआत की गई है। राज्य को केंद्र सरकार की तरफ से तकरीबन 502 एंबुलेंस दिए गए हैं। जानवरों की बीमारी की हालत में यह सुविधा पशुपालकों को मिल सकेगी। इस एंबुलेंस सेवा के शुरू होने के बाद गाय बिना किसी देरी के वेटनरी हॉस्पिटल भेजी जा सकेगी। इससे समय रहते दुधारू पशुओं की जान बचाई जा सकेगी।