Home हिन्दी फ़ोरम महाराष्ट्र – होगा 40 हजार करोड़ का निवेश, मिलेगा 1.2 लाख रोजगार

महाराष्ट्र – होगा 40 हजार करोड़ का निवेश, मिलेगा 1.2 लाख रोजगार

503
0
SHARE
महाराष्ट्र में होगा 40 हजार करोड़ रुपए का निवेश, मिलेगा 1 लाख 20 हजार लोगों को रोजगार
 
महाराष्ट्र में ज्यादा से ज्यादा कंपनियां आए और निवेश हो इसके लिए महाराष्ट्र सरकार और उद्योग विभाग लगातार प्रयासरत है। निवेश के मामले में महाराष्ट्र सरकार को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। महाराष्ट्र में तमाम कॉरपोरेट हाउसेस ने निवेश के लिए हामी भरी है। महाराष्ट्र में अलग-अलग कॉरपोरेट कंपनियों (Corporate Houses) ने 40 हजार करोड़ रुपए के निवेश के लिए राजी हुए है। राज्य के उद्योग विभाग की मंत्रिमंडल उप समिति ने नवी मुंबई, छत्रपति संभाजीनगर (औरंगाबाद), नंदुरबार, अहमदनगर और रायगढ़ में 40 हजार करोड़ रुपए के निवेश के लिए विशाल परियोजनाओं को मंजूरी दी है।

महाराष्ट्र में निवेश से 1 लाख से ज्यादा लोगों को मिलेगा रोजगार

महाराष्ट्र में इस निवेश से लगभग 1 लाख 20 हजार रोजगार का सृजन हो सकेगा। इसमें औरंगाबाद और पुणे में इलेक्ट्रिक वाहन और बैटरी निर्माण का परियोजना का समावेश है। 12 हजार 482 करोड़ रुपए के निवेश वाली देश की यह पहली परियोजना होगी। जबकि नई मुंबई के महापे में स्थापित होने वाली जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क को अतिविशाल परियोजना का दर्जा दिया गया है। हम आपको बता दें कि बुधवार को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde and Devendra Fadnavis) की अध्यक्षता उद्योग विभाग की मंत्रिमंडल उपसमिति की पांचवीं बैठक हुई। इसमें उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, राज्य के उद्योग मंत्री उदय सामंत और राज्य के मुख्य सचिव मनोज सौनिक सहित संबंधित विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

महाराष्ट्र में निवेश से EV क्षेत्र को मिलेगा बढ़ावा

पुणे और छत्रपति संभाजी नगर (औरंगाबाद) में गोगोरो इंडिया कंपनी के माध्यम से इलेक्ट्रिक वाहन (EV in Maharashtra) व बैटरी के निर्माण और बैटरी स्वैपिंग (Battery Swapping) इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जाएगा। देश के पहली इस परियोजना को इतने बड़े पैमाने के रूप में मंजूरी दी गई है। गोगोरो कंपनी पूरे राज्य में 12 हजार स्वैपिंग स्टेशन (Battery Swapping Station in Maharashtra) स्थापित करेगी। इससे इलेक्ट्रिक वाहन (Electric Vehicle) आधारभूत सुविधा और ईवी के इस्तेमाल को भी गति मिल सकेगी।
औरंगाबाद में इलेक्ट्रिक वाहन और बैटरी बनाने के लिए इथर एनर्जी कंपनी 865 करोड़ रुपए की परियोजना को भी मंजूरी दी गई है। एथर एनर्जी भारत में इलेक्ट्रिक वाहन उत्पादन करने वाली अहम कंपनी है। पुणे में ई-बस के निर्माण वाली देश की पहली परियोजना लगाई जाएगी। पिनैकल मोबिलिटी सोल्युशन्स कंपनी ई-बस बनाने के लिए 776 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। रायगड में परफॉरमेंस केमिसर्व कंपनी 2700 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। स्मार्टकेम टेक्नोलॉजीज 2033 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। नंदुरबार में जनरल पॉलिफिल्मस कंपनी 500 करोड़ रुपए की परियोजना लगाएगी। सातारा के विप्रो परी रोबोटिक्स कंपनी 544 करोड़ रुपए और अहमदनगर में गणराज इस्पात कंपनी 110 करोड़ रुपए का निवेश करेगी।

इंडिया जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क परियोजना स्थापित की जाएगी

इसके साथ ही जेम्स एण्ड ज्वेलरी आर्ट प्रमोशन काउंसिल (जीजेईपीसी) द्वारा नई मुंबई के महापे में इंडिया जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क परियोजना स्थापित की जाएगी। लगभग 21 एकड़ क्षेत्र में इंडिया ज्वेलरी पार्क बनाया जाएगा। इससे यहां पर 1354 औद्योगिक व व्यापारी आस्थापना (प्रतिष्ठान) शुरु हो सकेगा। इस परियोजना के तहत महाराष्ट्र में रत्न व आभूषण क्षेत्र समूहों के लिए एकात्मिक सुविधा विकसित किया जाएगा (Investment in Maharashtra during Eknath Shinde and Devendra Fadanvis Government)। इससे निवेश, उत्पादन, रोजगार, व्यापार और निर्यात को प्रोत्साहन देने के उद्देश्य से लगभग 20 हजार करोड़ रुपए के निवेश का अनुमान है। इस परियोजना से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लगभग 1 लाख रोजगार पैदा हो सकेगा। साथ ही वैश्विक स्तर पर जेम्स एण्ड ज्वेलरी के उत्पादन का निर्यात बढ़ाने में बड़े पैमाने पर मदद मिल सकेगी।