Home हिन्दी फ़ोरम पिंपरी-चिंचवड – ट्रांसजेंडर समुदाय के 11 लोगों को मिली नौकरी

पिंपरी-चिंचवड – ट्रांसजेंडर समुदाय के 11 लोगों को मिली नौकरी

32
0
SHARE
 
ट्रांसजेंडर समुदाय को समाज की मुख्यधारा में लाने का एक अनोखा प्रयास किया गया है। पिंपरी-चिंचवड महानगर पालिका (Pimpri-Chinchwad Municipal Corporation) ने ट्रांसजेंडर समुदाय (LGBT Community) के सदस्यों को रोजगार के अवसर प्रदान करने का निर्णय लिया है। हाल ही में पीसीएमसी ने ट्रांसजेंडर समुदाय के लोगों को सुरक्षा गार्ड और ग्रीन मार्शल के रूप में नौकरी पर रखा गया है। गौरतलब है कि ट्रांसजेंडर समुदाय के सदस्यों को फिलहाल कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर काम पर रखा गया है।

पिंपरी-चिंचवड महानगर पालिका द्वारा ट्रांसजेंडर समुदाय को समाज की मुख्यधारा में लाने का एक अनोखा प्रयास

The CSR Journal से ख़ास बातचीत में पिंपरी-चिंचवड महानगर पालिका के कमिश्नर राजेश पाटील ने बताया कि “LGBT Community को समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए पीसीएमसी का ये प्रयास अनोखा है”। पिंपरी-चिंचवड महानगर पालिका के कमिश्नर राजेश पाटील ने एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन कर खुद ट्रांसजेंडर समुदाय के लोगों को नियुक्ति पत्र सौंपा। राजेश पाटील ने 11 ट्रांसजेंडरों को सुरक्षा गार्ड और ग्रीन मार्शल गार्ड के रूप में नियुक्ति दिया। हम आपको बता दें कि PCMC ने उनके वैकल्पिक आजीविका विकल्पों के लिए भी अवसर सृजित किए हैं।
11 ट्रांसजेंडरों को नौकरी की नियुक्ति पत्र सौंपते पिंपरी-चिंचवड महानगर पालिका के कमिश्नर राजेश पाटील

11 ट्रांसजेंडरों को सुरक्षा गार्ड और ग्रीन मार्शल गार्ड की मिली नौकरी

सुरक्षा गार्ड और ग्रीन मार्शल की नौकरी को स्वीकार करते हुए ट्रांसजेंडर भावुक और उत्साहित थे। ट्रांसजेंडर निकिता ने The CSR Journal से ख़ास बातचीत में बताया कि “अब तक ट्रांसजेंडर समुदाय (LGBT Community) अपमान सहता आया है, हमेशा सम्मान के लिए सपने देखती थी लेकिन अब मौक़ा आया है खुद को साबित करने का। हमें हमेशा से समाज ने नकारा है लेकिन महानगर पालिका ने हमें अपनाया है, हमें मौक़ा मिला है, हम अब साबित कर दिखाएंगे”।

ट्रांसजेंडर समुदाय हमेशा से ही हाशिये पर रहा है

ट्रांसजेंडर समुदाय हमेशा से ही हाशिये पर रहा है, ट्रांसजेंडर समुदाय को मुख्यधारा में लाने के लिए खूब बातें और नियोजन होते है लेकिन जब बात इम्प्लीमेंटेशन की आती है तो समुदाय के लोग हमेशा से ही उपेक्षित रहते है। उम्मीद है कि Pimpri Chinchwad Muncipal Corporation का ये प्रयास दूसरों को भी प्रेरित करेगा इससे दूसरे लोग और संस्थाएं ट्रांसजेंडर समुदाय को सम्मान और उनका हक़ दिला पाएंगे।