Home हिन्दी फ़ोरम कोरोना की रफ़्तार थमी, सीएसआर से स्वास्थ्य पर काम जारी

कोरोना की रफ़्तार थमी, सीएसआर से स्वास्थ्य पर काम जारी

175
0
SHARE
ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करते केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी
 
कोरोना के मामलों में भले ही गिरावट आयी हो, लेकिन सीएसआर से कोरोना को मात देने का काम लगातार जारी है। ये किसी से छुपा नहीं है कि पिछले दो सालों में कोरोना ने देश भर में कहर बरपाया। लेकिन इस बीच अच्छी खबर हमेशा से ही सीएसआर और कॉरपोरेट्स से आती रही। भले ही अब Covid-19 के केसेस में कमी आ रही है लेकिन CSR के तहत कोरोना को खत्म करने का काम जारी है। तीसरी लहर की आहट तो नज़र नहीं आ रही है लेकिन कोरोना के घात को खत्म करने के लिए कॉरपोरेट्स तैयारी जरूर कर रही है।

कोरोना को मात देने के लिए सीएसआर से नितिन गडकरी ने किया ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन

Covid-19 काल में ऑक्सीजन की कमी हो या फिर टेस्टिंग लैब की कमी अब तैयारी पूरी है, वो भी कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी फंड की मदद से। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र के अमरावती के पंजाबराव देशमुख मेमोरियल मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया। नितिन गडकरी के प्रयास से पांच करोड़ के सीएसआर फंड की मदद से ये प्लांट बनाया गया है। इस ऑक्सीजन प्लांट से 200 क्यूबिक मीटर ऑक्सीजन की निर्मिती की जाएगी।

सीएसआर की मदद से एकनाथ शिंदे ने किया RTPCR कोरोना लैब का उद्घाटन

वहीं सीमेंस के सीएसआर फंड की मदद से नवी मुंबई के नेरुल में मां साहेब मीनाताई ठाकरे हॉस्पिटल में आरटीपीसीआर टेस्टिंग लैब भी बनाया गया है। कोविड टेस्टिंग लैब को बनाने के लिए महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ शिंदे ने पहल की और सीमेंस के सीएसआर फंड से  RTPCR Testing Lab बनकर तैयार है जिसका उद्घाटन खुद मंत्री एकनाथ शिंदे ने किया। हम आपको बता दें कि महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिंदे और उनके सांसद बेटे डॉ श्रीकांत शिंदे बड़े पैमाने पर महाराष्ट्र में हेल्थ सेक्टर के काम करते है। डॉ श्रीकांत शिंदे फाउंडेशन के तहत पूरे महाराष्ट्र में शिवसेना मेडिकल हेल्प डेस्क कैंप लगाकर ग्रामीण और जहां मेडिकल सुविधाएं नहीं पहुंच सकती वहां फाउंडेशन जाकर काम करता है।

बिहार में सीएसआर से निर्मित 100 बेड का कोविड सेंटर का उद्घाटन हुआ

वहीं बिहार की बात करें तो राज्य के मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने एसकेएमसीएच मुजफ्फरपुर पहुंचकर उन्होंने आईसीआईसीआई बैंक के सीएसआर से निर्मित 100 बेड का कोविड-19 सेंटर का उद्घाटन किया। साथ ही कैंसर अस्पताल में 100 बेड का पीआईसीसी वार्ड का उद्घाटन किया। बहरहाल जिस तरह से कोरोना के तीसरे लहर की आशंका जाहिर की जा रही थी वैसे केसेस नहीं बढ़े, बड़ी बात ये भी है कि सरकार और कॉरपोरेट की तैयारी भी पुख्ता है।