Home Authors Posts by Rahuldeo Sharma

Rahuldeo Sharma

247 POSTS 0 COMMENTS

डाबर इंडिया के सीएसआर हेड ए सुधाकर से ख़ास बातचीत

डाबर इंडिया लिमिटेड भारत में FMCG क्षेत्र में चौथी सबसे बड़ी कंपनी है। 1884 में कोलकाता में बर्मन परिवार ने जब एक छोटी आयुर्वेदिक दवा कंपनी के रूप में शुरुआत की थी तो 136 साल बाद यह नंबर वन कंपनी बन जाएगी किसी ने सोचा नहीं होगा। आयुर्वेदिक व नैचरल हेल्थ केयर क्षेत्र में...

भविष्य के लिए तैयार करता इंडियन ऑयल सीएसआर

''भारत की प्रेरणा इंडियन ऑयल'' इस उद्घोष से लगातार भारत में इंडियन ऑयल सेवा देती रही है। इंडियन ऑयल में कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (सीएसआर) साल 1964 में स्थापना के समय से ही सफलता की आधारशिला रहा है। इंडियन ऑयल, भारत की वो सार्वजनिक उपक्रम जिसका आकार विशालकाय होने का आभास देते हैं। इंडियन ऑयल...

सीएसआर – यूपी में निवेश के लिए सीएम योगी मुंबई में

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में है। उत्तर प्रदेश के विकास का रास्ता योगी मुंबई में तलाशने के लिए आये थे। यहां मुंबई में योगी आदित्यनाथ ना सिर्फ फ़िल्मी सितारों से मिले बल्कि देश के तमाम कॉर्पोरेट्स के दिग्गजों से मिले। मुंबई यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

विश्व एड्स दिवस 2020 – सीएसआर रोकता एड्स का प्रसार

भारत में एचआईवी और एड्स के मामले लगातार कम हो रहें हैं, आकड़ों में गिरावट दर्ज की जा रही है, एचआईवी के नए मामले भी आने बहुत कम हो गए हैं। एचआईवी/एड्स के मामलों में कमी की वजह इस बीमारी के प्रति जागरूकता और सीएसआर है। सीएसआर फंड की मदद से भारत सरकार और...

मुंबई ने निभाई सामाजिक ज़िम्मेदारी, सड़क दुर्घटनाएं हुईं कम

मुंबई की चकाचौंध दुनिया में हर एक मुंबईकर दिन रात कुछ न कुछ हासिल करने के लिए दौड़ता भागता रहता है। ना रात का ख्याल, ना दिन में वक़्त, मुंबई में कोई बन जाता है, तो कोई इस भीड़ का महज हिस्सा बनकर रह जाता है। मुंबई यानी हादसों का शहर। लेकिन हादसों को...

सीएसआर से शिक्षा, स्वास्थ्य और कृषि पर करें फोकस – रांची DC 

सामाजिक परोपकारी योजनाओं के लिए सरकारी फंड का रोना रोने वाली सरकार सीएसआर फंड से बड़े बदलाव की कोशिश में है। सीएसआर को लेकर एक बार फिर से झारखंड के रांची में उपायुक्त छवि रंजन ने समीक्षा बैठक की। उपायुक्त छवि रंजन की अध्यक्षता में सीएसआर अंतर्गत जिलास्तरीय बैठक आयोजित की गयी। इसमें CSR...

सीएसआर से संवार दिया गांव, पीएम मोदी भी हुए मुरीद

अमितेश कुमार, एक साधारण सा नाम, ना पहचान, ना कोई रूतबा, ना कोई शख्सियत। अमितेश ने पढ़ाई के दौरान सीएसआर (CSR) को जाना और उसकी ताकत को पहचाना। फिर क्या था, सीएसआर यानी कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी की मदद से अमितेश ने वो कारनामा कर दिखाया जिससे आज ना सिर्फ जिलाधिकारी, मुख्यमंत्री बल्कि देश का...

सीएसआर – विराट कोहली कुपोषित बच्चों के लिए करेंगे दान

सामाजिक ज़िम्मेदारी का निर्वहन सिर्फ देश की कॉर्पोरेट्स का ही ना होकर अगर ये ज़िम्मेदारी हर एक सक्षम व्यक्ति उठा ले तो इस देश में कोई भी ज़रूरतमंद भूखा नहीं रहेगा। कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी यानी सीएसआर (CSR) के तहत कॉर्पोरेट्स तो सामाजिक भलाई के लिए काम करते ही रहते हैं लेकिन अब देश में...

सीएसआर से मिलेगी शिक्षा और बुझेगी प्यास

कोरोना की वजह से देश की शिक्षा प्रणाली बुरी तरह प्रभावित हुई है। साल खत्म होने आया है लेकिन स्कूल अभी तक नहीं खुला है। बच्चों की पढ़ाई प्रभावित ना हो इसलिए सरकार और स्कूल मैनेजमेंट ऑनलाइन पढ़ाई करवा रही है। ऑनलाइन पढ़ाई बच्चों के साथ साथ अभिभावक भी कर रहें हैं वो भी...

विश्व सुनामी जागरूकता दिवस – क्या तैयार हैं हम?

इमारतें भरभरा गईं, सड़कें टूट गयी, यातायात ठप हो गयी, एक दूसरे से संपर्क टूट गया, समुद्र का पानी गायब और हर तरफ तबाही का मंजर, अपने अपनों को तलाशते यही कुछ हुआ तुर्की और ग्रीस में। हाल ही में भूकंप और फिर सुनामी की डराने वाली तस्वीरें सामने आयी। ग्रीस और तुर्की में...

सीएसआर से बदलेगा आंगनबाड़ी, मैकेनिक को मिला प्रशिक्षण

झारखंड हज़ारीबाग़ के आंगनबाड़ी बच्चों का जल्द ही भविष्य सवरने वाला है, इन बच्चों का जल्द ही स्वरूप बदलने वाला है। अब हज़ारीबाग़ के आंगनबाड़ी भी चमकेंगे। अब बहुत जल्द ही आंगनबाड़ी के बच्चे भी पहनेंगे कान्वेंट जैसे स्कूल ड्रेस। ये सब बहुत जल्द होने वाला है। अगर आपके बच्चे हज़ारीबाग़ के आंगनबाड़ी में...

सीएसआर – स्वरोजगार से आत्मनिर्भर बनती महिलाएं

सीएसआर से स्वरोजगार, आत्मनिर्भर बनती महिलाएं झारखंड में सीएसआर की मदद से महिलाएं आत्मनिर्भर बन रहीं हैं। ये महिलाएं अपनी जिंदगी का गुजर बसर करने के लिए कभी पत्ता और लकड़ी चुनने का काम करती थी। लेकिन कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (CSR) ने इनकी जिंदगी में सकारात्मक बदलाव लेकर आया है। अब ये पत्ता और लकड़ी...

हिंदी मंच

EDITOR'S PICK