Home हिन्दी फ़ोरम कोरोना से जान गंवाने वाले कर्मचारियों के परिवार वालों को राहत

कोरोना से जान गंवाने वाले कर्मचारियों के परिवार वालों को राहत

216
0
SHARE
कोरोना से जान गंवाने वाले कर्मचारियों के परिवार वालों को राहत, मिलेगी ये सौगात
 
जहां कोरोना एक तरफ कहर बनकर टूटा है, जहां हर तरफ मायूसी छायी है, मौतों का आकड़ा बढ़ रहा है, ज्यादातर लोग कोरोना से प्रभावित हो रहे है। लोगों की नौकरियां जा रही हैं और साथ ही घर में कमाने वाले व्यक्ति की मौत होने की वजह से परिवार के ऊपर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। वही देश की कॉरपोरेट्स से ख़ुशी की खबर आयी है। देश की कई कॉरपोरेट्स ने कोरोना महामारी के इस दौर में अपने कर्मचारियों और उनके परिवार वालों के लिए कुछ ऐसा कर दिया है जिसकी हर तरफ सराहना हो रही है। इस राहत भरे निर्णय में टाटा स्टील (Tata Steel) और जिंदल स्टील एंड पॉवर लिमिटेड (JSPL) सबसे आगे है।

कोरोना से कर्मचारी की मौत पर टाटा स्टील देगी परिवार को 60 साल तक सैलरी

दरअसल, टाटा स्टील ने अपने कर्मचारियों और उनके परिवार वालों के लिए सोशल सिक्योरिटी स्कीम की घोषणा की है। टाटा स्टील द्वारा जारी घोषणा के अनुसार कोरोना की वजह से कंपनी के किसी भी कर्मचारी की मृत्यु होने पर उसके परिवार को 60 साल तक सैलरी दी जाएगी। टाटा स्टील का कहना है कि कर्मचारियों को मिलने वाली सैलरी मृत कर्मचारी की आखिरी सैलरी के बराबर होगी। इसके अलावा मृत कर्मचारी की 60 वर्ष की उम्र पूरी होने तक की अवधि तक परिवार को सैलरी मिलेगी।

बच्चों की पढ़ाई का भी खर्च उठाएगी टाटा स्टील

कंपनी की ओर मिली जानकारी के मुताबिक मृतक के परिवार को कंपनी की ओर से सभी तरह के मेडिकल फायदे दिए जाएंगे। कंपनी की ओर से बच्चों के ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई का पूरा खर्च उठाया जाएगा। टाटा स्टील मैनेजमेंट ने इस निर्णय पर एक सर्कुलर भी जारी किया है। कोरोना के इस आपातकाल के दौरान टाटा स्टील के कर्मचारियों ने लगातार काम करते हुए ना सिर्फ कंपनी की ग्रोथ में भी योगदान दे रहे हैं बल्कि देश को निरंतर ऑक्सीजन की सप्लाई मिलती रहे इसलिए दिन रात काम भी कर रहे है।

JSPL द्वारा आश्रितों को अगले 5 साल तक दी जाएगी बेसिक सैलरी

इसके साथ ही जिंदल स्टील एंड पॉवर लिमिटेड (JSPL) कंपनी भी अपने कर्मचारियों के सामाजिक सुरक्षा का पूरा ख्याल रख रही है। देश के प्रमुख उद्योगपति नवीन जिंदल की अगुवाई वाली जिंदल स्टील एंड पॉवर लिमिटेड (जेएसपीएल) ने भी अपने कर्मचारियों के प्रति दरियादिली दिखाते हुए बहुत महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। अपनी सामाजिक जिम्मेदारी के साथ साथ नवीन जिंदल ने आपने कर्मचारियों का ख्याल रखते हुए ऐलान किया कि अगर कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से किसी कर्मचारी की मृत्यु होती है तो उनके आश्रितों को अगले 5 साल तक बेसिक सैलरी दी जाएगी।

नवीन जिंदाल ने कहा कि JSPL अपने लोगों के साथ खड़ी है

ट्विटर पर जानकारी साझा करते हुए जेएसपीएल के चेयरमैन नवीन जिंदाल ने लिखा कि JSPL अपने लोगों के साथ खड़ी है। इसी कड़ी में JSPL द्वारा मृतक के परिवार को कंपनी की ओर से सभी तरह के मेडिकल इंश्योरेंस के फायदे दिए जाएंगे। बड़ी बात ये भी है कि JSPL द्वारा मृतक के परिवार यानी पति/पत्नी या फिर एक बच्चे को कंपनी में उसकी योग्यता के अनुसार नौकरी भी दिया जायेगा। बात करें मृतक के बच्चों की पढ़ाई की तो JSPL द्वारा 2 बच्चों को बारहवीं तक एक-एक लाख रुपये पढ़ाई के लिए दिया जायेगा।

देश पर जब ऑक्सीजन की आफत आई तो इन कर्मचारियों ने नहीं देखा दिन-रात

कोरोना मरीजों के लिए संजीवनी का काम कर रही ऑक्सीजन को लेकर जहां देश भर आतंक सा माहौल बना रहा, ऑक्सीजन के लिए लोग दर-दर भटक रहे थे, ऐसे समय में देश के ये कॉरपोरेट्स किसी मसीहा से कम नहीं रहे। इस्पात निर्माता कंपनी जिंदल स्टील एंड पॉवर लिमिटेड (जेएसपीएल) हो या टाटा स्टील सभी स्टील कंपनियों ने देश के कोने कोने में जरूरतमंदों तक मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचाया। इन स्टील प्लांटों में कर्मचारियों ने ऑक्सीजन की आपातकाल मांग को देखते हुए पूर्ति के एड़ी चोटी का जोर लगा दिया, दिन रात काम करते हुए देश को ऑक्सीजन दिया। ऐसे में इन कॉरपोरेट्स का अपने कर्मचारियों के प्रति ये दरियादिली कबीले तारीफ है और अन्य कॉरपोरेट्स को टाटा स्टील और जेएसपीएल (JSPL) से सबक लेनी चाहिए।